दिल को स्वस्थ रखने के लिए घरेलु उपाय

भारत में हर साल होने वाली मृत्यु में लगभग 25% मौत केवल दिल की बीमारी के कारण ही होती है। साल 2015 में हुए एक सर्वेक्षण में केवल भारत में ही 60 लाख लोग दिल की बीमारी से ग्रसित है और अगर विशेषज्ञो की माने तो हर दो सालो में आकड़ा दुगुना बढ़ जायेगा।

हृदय रोग होने के मुख्य वजह:

  • मोटापा होना – शरीर के वजन का जरूरत से ज्यादा होने से।

  • उनहेल्थी फ़ूड ज्यादा वसा युक्त, कोलेस्ट्रोल युक्त, ऑयली खाना खाने से।

  • हाई लेवल कोलेस्ट्रोल दिल की रक्त धमनियों में एक्स्ट्रा वसा के जम जाने से बैड कोलेस्ट्रोल बढ़ जाता है। जिससे दिल तक ब्लड का सर्कुलेशन सुचारू रूप में नहीं हो पाता।

  • हाई ब्लडप्रेशर हाई ब्लड प्रेशर होने से रक्त की धमनियों में ब्लड का दवाब बहुत ज्यादा बनने लगता है जिससे हार्ट अटैक आने का खतरा बहुत ज्यादा बढ़ जाता है।

  • अनुवांशिक(biological) दिल की बीमारी अनुवांशिक भी हो सकती है यानि की अगर आपके माता-पिता में से किसी को हृदय रोग होता है तो ये आगे की पीढ़ी को होने के भी चांसेस होते है।

  • ज्यादा धुम्रपान करने से हद से ज्यादा धुम्रपान भी जानलेवा हो सकता है। धुम्रपान करने की चीजों में कैफीन की मात्रा बहुत अधिक होती है। जिससे ब्लड प्रेशर बढ़ने लगता है और हार्ट डिजीज का कारण बनता है।

  • बढती उम्र ज्यादातर देखा गया है की 40 साल की उम्र के बाद व्यक्ति में हृदय रोग होने के चांसेस बढ़ जाते है तो 40 साल के बाद समय-समय पर जांच जरुर कराये।

हृदय को स्वस्थ रखने के उपाय:

  • प्याज(onion): प्याज में सल्फर और फास्फोरिक एसिड होता है जो रक्त धामियो के खून को तेजी से शुद्ध करता है। इसमें विटामिन-c और विटामिन–b होता है जो बैड कोलेस्ट्रोल को खत्म करके ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल करके रखता है। एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-फंगल गुण होते है जो खून में किसी भी तरह के इन्फेक्शन को होने से रोकता है। रोजाना अपने खाने में कच्चे प्याज का सलाद बना कर खाए।

  • आंवला, मौसमी और संतरे का जूस: दिल को मजबूत बनाए रखने के लिए विटामिन-c और फाइबर बहुत ही उपयोगी है। फाइबर रक्त धमनियों में जमे एक्स्ट्रा चर्बी को पिघलाने में बहुत ही इफेक्टिव है। आंवला, मौसमी और संतरा विटामिन–c, आयरन और फाइबर का सबसे अच्छा श्रोत होता है। इसके सेवन से खून में हीमोग्लोबिन(himoglobin) की कमी नहीं होती, खून शुद्ध होता है और खून की कमी नहीं होती। रोजाना सुबह आंवले, मौसमी और संतरे के जूस को मिक्स करके पीने से दिल से जुड़ी बीमारियों से निजात मिलती है।

नोट: आंवले के जूस या आंवला का मुरब्बा भी दिल को मजबूत बनाने में बहुत इफेक्टिव है।

  • शहद, तुलसी के पत्ते और नींबू का रस: शहद में मौजूद एंटी-ओक्सिडेंट और फ्लेवेनोइड दिल को मजबूत बनाने के लिए बहुत ही लाभकारी होता है। नींबू में विटामिन-c, विटामिन-b, पोटेशियम और आयरन जैसे पोषक तत्व पाए जाते है जो ब्लड प्रेशर को कण्ट्रोल करते है। इसके सेवन से मानसिक तनाव कम होता है। रोजाना एक चम्मच शहद में 4 से 5 बुँदे नींबू के रस की और 4 से 5 बुँदे तुलसी के रस की मिक्स करके खाए।

हार्ट को हेल्दी बनाये रखने के लिए टिप्स:

  • जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर है वो कच्चे नमक का सेवन बिल्कुल भी न करे और खाने में भी नमक कम खाए।
  • धुम्रपान करने की आदत है तो उसे तुरंत ही छोड़ दे। ये ब्लड प्रेशर को बढ़ाता है और दिल की रक्त धमनियों को सिकोड़ देता है जिससे हार्ट तक ब्लड का सर्कुलेशन ठीक से नहीं हो पाता जो हार्ट अटैक और हार्ट डिजीज का कारण भी बनता है।
  • हरी पत्तेदार और मौसमी सब्जियों का सेवन करे।
  • बहुत ज्यादा ऑयली, फ़ास्ट फ़ूड चीजों का सेवन न करे।
  • वजन को सदैव कण्ट्रोल में रखे। जरूरत से ज्यादा न बढ़ने दे।
  • रोजाना करीब आधे घंटे तक तेज वाक(walk) जरुर करे ताकि पसीना बहे सुबह व्यायाम करे।

तनाव बहुत ही खतरनाक है दिल के लिए, तो कोशिश करे की तनाव से दूर रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *