काली मिर्च के अचूक घरेलु फायदे:

काली मिर्च भारतीय मसालों में सबसे अहम् माना जाता है। भारतीय वयंजन की शान कहे जाने वाले गर्म मसाले में काली मिर्च भी एक मुख्य पात्र होता है लेकिन काली मिर्च केवल खाने के स्वाद को ही लजीज़ नहीं बनता बल्कि इसके और भी अचूक फायदे है।

काली मिर्च में मौजूद पोषक तत्व:

काली मिर्च में विटामिन-a, विटामिन-c, बीटा केरोटिन, सेलेनियम, पिपेरिने योगिक, करक्यूमिन (कैंसर से लड़ने में असरदार), पॉलीफेनोल, पोटासियम, मैगनीज, कैल्शियम, जिंक, आयरन, मैग्नेशियम, सोडियम, एंटी-फंगल, एंटी-इन्फेक्शन, एंटी–सेप्टिक, एंटी-ओक्सिडेंट, एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-इंफ्लेमेटरी जैसी फायदेमंद घटकों से भरपूर है। इसके अनगिनत घरेलु फायदे है।

 ( यहाँ पढ़ेबालो के लिए आंवले को दो तरह से इस्तेमाल कर सकते है )                                            

काली मिर्च के घरेलु नुस्खे: 

  • सर्दी-जुखाम से दिलाये राहत:

काली मिर्च में एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टिरियल गुण होते है। इसकी तासीर बहुत गर्म होती है। काली मिर्च से सर्दी-जुखाम का इलाज करने का तरीका सदियों पुराना है। इसके लिए आप 4 से 5 काली मिर्च के दानो को पीस ले फिर एक कप पानी को में काली मिर्च पाउडर, 4 तुलसी के पत्ते और 1 टुकड़ा अदरक का मिक्स कर के बॉईल कर ले। इसके बाद इसे छान ले और हल्का ठंडा करके एक चम्मच शहद मिक्स कर के चाय की तरह पिए। दिन में दो बार पीने से जुखाम से राहत मिल जाएगी।

  • दांतों और मसूड़ो के लिए:

काली मिर्च दांतों में लगे कीड़े, मसुडो की सुजन और दांत दर्द से निजात दिलाने में बहुत ही इफेक्टिव होम रेमेडी है। इसके लिए चुटकी भर काली मिर्च पाउडर को 1 टी स्पून लौंग के तेल या फिर तिल के तेल में मिक्स कर के अपने दांतों पर लगाये।

इसके अलावा थोड़े से पानी में चुटकी भर काली मिर्च पाउडर और चुटकी भर नमक मिक्स कर के अपने दांतों की सफाई करे। दांतों की समस्या से निजात मिल जाएगी।

  • मोटापे को दूर करने में:

काली मिर्च शरीर की एक्स्ट्रा चर्बी को कम करने में भी इफेक्टिव घरेलू उपाय होता है। काली मिर्च में मौजूद फाइबर, एंटी-ओक्सिडेंट, मैग्नेशियम, जिंक जैसे तत्व शरीर में एक्स्ट्रा वसा को जमने नहीं देते है। पाचन शक्ति को मजबूत बनाता है जिसे एसिडिटी, अपच और गैस होने के चांसेस भी बहुत कम हो जाते है। इसके लिए आप रोजाना सुबह खाली पेट आधा टी स्पून काली मिर्च पाउडर को गुनगुने पानी में मिक्स कर के उसमे एक चम्मच शहद मिक्स कर के पिए। चर्बी पिघलने लगेगी।

  • बालो के लिए:

अगर बालो के झड़ने और रुसी की समस्या से परेशान है तो काली मिर्च पाउडर का उपयोग आपको इस समस्या से छुटकारा दिला सकता है। इसके लिए आप एक प्याज के रस में 1 टी स्पून काली मिर्च पाउडर मिक्स करके अपने बालो में लगाये और एक घंटे बाद बाल धो ले। इससे आपके स्कैल्प में किसी भी तरह के फंगल इन्फेक्शन को खत्म कर देगा। इस देसी नुस्खे को हफ्ते में 3 बार उपयोग करे।

  • सर दर्द से राहत दे:

माईग्रेन का दर्द सबसे घातक सर दर्द माना जाता है इसमें व्यक्ति के आधे सर में दर्द होता है जिसका प्रभाव कम से कम 3 दिनों तक रहता है। माईग्रेन के दर्द से बचाव के लिए रोजाना सुबह खाली पेट 4 काली मिर्च और 2 दाने मिश्री के पीसकर चूर्ण बना के पानी के साथ खा ले। इससे दर्द होने की सम्भावना बहुत कम हो जाएगी।

  • चेहरे के लिए:

काली मिर्च चेहरे से कील-मुहांसे और झुर्रिया दूर करने में भी लाभकारी घरेलु उपाय होता है। इसमें एंटी-एजिंग और एंटी-इंफ्लेमेटरी पाया जाता है जो स्किन की रंगत को बढ़ाने में बहुत ही लाभदायक होता है। इसके लिए आप 1 टेबल स्पून काली मिर्च पाउडर को 2 टेबल स्पून गुलाब जल में डाल कर पेस्ट बनाये और अपने फेस पर अप्लाई करे। 15 मिनट बाद ठन्डे पानी से फेस धो ले। हफ्ते में 2 बार इस्तेमाल करे। कील-मुहांसों और झुर्रिया से निजात मिल जाएगी साथ ही चेहरे का रंग भी निखर जायेगा।

 ( जानिए  क्या क्या है  काले चने के फायदे  )                                                                 

काली मिर्च के इस्तेमाल में सावधानियां:

  • काली मिर्च की तासीर बहुत ज्यादा गर्म होती है तो इसका जरूरत से ज्यादा उपयोग आपके पेट और सीने में जलन पैदा कर सकता है। इससे पेट भी ख़राब हो सकता है।
  • अस्थमा के मरीज या जिन्हें सांस से संबंधित समस्या हो तो उन्हें काली मिर्च कभी नहीं सूंघना चाहिए।
  • जो महिलाये गर्भवती है या फिर स्तनपान कराती है उन्हें काली मिर्च के सेवन से बचना चाहिए। इससे बच्चे को नुक्सान हो सकता है।

जिन्हें तेज गर्मी की वजह से नाक से खून आता है उन्हें भी काली मिर्च से दूर रहना चाहिए। गर्मियों में इसके ज्यादा सेवन से खून आ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Please wait...

Subscribe to our newsletter

Want to be notified when our article is published? Enter your email address and name below to be the first to know.